भगवान महावीर कैंसर अस्पताल में भर्ती बच्चों की युवा उद्यमियों ने पूरी की

भगवान महावीर कैंसर अस्पताल में भर्ती बच्चों की युवा उद्यमियों ने पूरी की

जयपुर भ्रमण पर आई यंग फिक्की लेडीज ऑर्गनाइजेशन, दिल्ली की युवा उद्यमियों ने कैंसर पीड़ित बच्चों से मुलाकात कर उनकी विश को पूरा किया। भगवान महावीर कैंसर अस्पताल में भर्ती बच्चों की इच्छा पूरी करने के लिए कार्यक्रम का आयोजन किया गया।  मिराकी किचन में आयोजित कार्यक्रम में पांच कैंसर पीड़ित बच्चों की विश पूरी की गई।

ड्रीम्स  फाउंडेशन की है पहल

भगवान महावीर कैंसर अस्पताल की वरिष्ठ उपाध्यक्षा अनिला कोठारने बताया कि मरीज बच्चों में आत्मविश्वास बढाने और हैप्पी इंडेक्स में इजाफे की पहल केजीके ग्रुप के ड्रीम्स फाउंडेशन की है। इसके तहत अस्पताल में भर्ती 1 से 16 साल की आयुवर्ग के बच्चों की कोई भी एक विश पूरी करने की पहल की जाती है। इसी दिशा में यंग फिक्की लेडीज ऑर्गनाइजेशन की युवा उद्यमियों के द्वारा बच्चों की इच्छा के अनुसार उपहार दिए गए।

5 बच्चों की विश हुई पूरी

बच्चों की विश भी अनूठी रही। इनमें से 3 बच्चों को मोबाइल फोन, एक को रिमोट कार एवं एक को रिमोट से संचालित मोटर साइकिल प्रदान की गई। उपहार मिलने की खुशी बच्चों के चेहरे पर साफ झलक रही थी। लाभांवित बच्चों में जयपुर से मनीषा, सिमरन और राहुल सैनी रहे। नागौर से पंकज गौड़ और हरियाणा की मनीषा की विश पूरी की गई।

डेलीगेशन में यह थे शामिल 

जयपुर भ्रमण पर आई वाई फिक्की लेडीज ऑर्गनाइजेशन मेंबर्स में चेयरपर्सन आंचल सेठी, अताशी सिंघानिया, मंदिरा लांबा, एकता गुप्ता, अनुजा गुप्ता, कनिका आहूजा, कविता ढींगरा, रिद्विमा खन्ना, रसिका कजारिया, गीतिका मेहरोत्रा और डॉ नूपूर जैन शामिल रही।

ड्रीम्स फाउंडेशन के बारे में

भगवान महावीर कैंसर अस्पताल में भर्ती कैंसर मरीज बच्चों की एक विशेष मांग पूरी करने के सामाजिक उदृदेश्य के साथ केजीके ड्रीम्स फाउंडेशन की ओर से 2010 में पहल की गई। अब तक सैंकड़ों बच्चों की विश इसके जरिए पूरी की जा चुकी है। इसमें 1 से 16 साल के बचचों की कोई भी एक विश पूरी की जाती है। 

Posted in Blog